भारतीय संस्कृति की आधुनिकता का प्रतीक होगा राम मंदिर : मोदी

उत्तर प्रदेश टॉप -न्यूज़ न्यूज़ प्रदेश राजनीती राष्ट्रीय

published by saurabh

इसे भी देंखें–https://www.youtube.com/watch?v=m0_Caa0LIhc&t=20s

अयोध्या(ST News): देश दुनिया के करोड़ो रामभक्तों के राम मंदिर के सपने को साकार करते हुये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि अयोध्या में मर्यादा पुरूषोत्तम श्रीराम का मंदिर समृद्धता से परिपूर्ण भारतीय संस्कृति की आधुनिकता का परिचायक होगा और मंदिर के बनने से न सिर्फ पौराणिक नगरी की भव्यता बढ़ेगी बल्कि इस क्षेत्र का पूरा अर्थतंत्र बदल जायेगा। रामजन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिये भूमि पूजन करने के बाद आयोजित समारोह को संबोधित करते हुये श्री मोदी ने बुधवार को कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण की प्रक्रिया राष्ट्र को जोड़ने का उपक्रम बनेगी। मंदिर के बनने के बाद पौराणिक नगरी की न सिर्फ भव्यता बढ़ेगी बल्कि इस क्षेत्र का पूरा अर्थतंत्र भी बदल जाएगा। श्रीराम का मंदिर भारतीय संस्कृति का आधुनिक प्रतीक बनेगा।

यह भी पढ़ें- https://sindhutimes.in/muslims-still-believe-that-babri-masjid-is-in-ayodhya/

यहां हर क्षेत्र में नए अवसर बनेंगे। पूरी दुनिया प्रभु राम और माता जानकी का दर्शन करने आएगी। श्री मोदी ने कहा कि राममंदिर के निर्माण की यह प्रक्रिया राष्ट्र को जोडऩे का उपक्रम है। यह विश्वास को विद्यमान से जोड़ने का,नर को नारायण से जोड़ने का, लोक को आस्था से जोड़ने का,वर्तमान को अतीत से जोड़ने का और स्वयं को संस्कार से जोडऩे का महोत्सव है। उन्होने कहा कि श्रीराम का संदेश है अपनी मातृभूमि स्वर्ग से भी बढ़कर होती है। यह भी श्री राम की नीति है भय बिन होय न प्रीति। देश जितना ताकतवर होगा उतनी ही शांति ही बनी रहेगी। राम की यही नीति यही रीति सदियों से भारत का मार्गदर्शन करती रही है। उन्होने कहा “ राम हमें समय के साथ बढ़ना सिखाते हैं, समय के साथ चलना सिखाते हैं। कोई भी दुखी ना हो, कोई भी गरीब ना हो, नर नारी सभी समान रूप से सुखी हों। जो शरण में आए उसकी रक्षा करना सभी का कर्तव्य है। महात्मा गांधी ने इन्हीं मंत्रों के आलोक में रामराज्य का सपना देखा था। राम का जीवन उनका चरित्र ही गांधी जी के राम राज्य का रास्ता है।

कृषि से संबन्धित समाचारों के लिए लागइन करेंhttp://ratnashikhatimes.com/