योगी राज में महिला उत्पीड़न चरम पर : अखिलेश

इटावा उत्तर प्रदेश कन्नौज टॉप -न्यूज़ न्यूज़ प्रदेश राजनीती

published by saurabh

इसे भी देंखें https://www.youtube.com/watch?v=ta5scYWKE4o&t=263s

इटावा/ कन्नौज, (ST News): उत्तर प्रदेश में लखीमपुर खीरी की घटना की भर्त्सना करते हुये समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के शासनकाल में बच्चियों और महिलाओं का उत्पीड़न चरम पर है। लखनऊ से दिल्ली जाते समय कन्नौज में पत्रकारो से बातचीत में श्री यादव ने कहा कि भाजपा काल में उत्तर प्रदेश की बच्चियों व नारियों का उत्पीड़न चरम पर है। बलात्कार, अपहरण, अपराध व हत्याओं के मामले में भाजपा सरकार प्रश्रयकारी क्यों बन रही है। लखीमपुर खीरी की घटना बेहद दुखद है। भाजपा की सरकार में लगातार ऐसी घटनाएं होती चली जा रही है। उन्होने कहा कि लूट अपहरण और बैंक में डकैती की वारदातें हर तरफ आम हो चुकी हैं। बेईमानी और भ्रष्टाचार पुलिस बल में इतना कभी देखने को नहीं मिला जो आज है। 100 नंबर गरीब की मदद के लिए बनाया गया था लेकिन उसको 112 नंबर करके बिल्कुल बेकार कर दिया गया है। सरकार केवल राजनीतिक लाभ लेने के लिए लोगो को परेशान कर रही है । पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान के उत्पीड़न को लेकर उन्होंने कहा कि वो समाजवादी पार्टी के कितने बड़े नेता हैं लेकिन शासन और प्रशासन ने जानबूझकर के उनके खिलाफ इतने अपराधिक मामले दर्ज करके उनका उत्पीड़न किया हुआ है ।

यह भी पढ़ें – https://sindhutimes.in/i-am-in-lucknow-yogi-government-can-arrest-sanjay-singh/

सपा अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री की ठोको नीति का ही नतीजा है कि आज पुलिस जगह-जगह आम लोगों को तो पीट ही रही है सत्ता और विपक्ष के विधायकों को भी मारने पीटने में जुट गई है । सदन में मुख्यमंत्री के ठोको नीति का गुणगान करना पुलिस के मनोबल बढ़ा रहा है । मुख्यमंत्री की ठोको नीति ने इसके वजह से ही पुलिस कंफ्यूज है वह यह नहीं समझ पा रही है कि जनता को ठोकना है कि विधायक को ठोकना है । इसीलिए थानों में शिकायती तौर पर जा रहे जनप्रतिनिधियों के साथ मारपीट होने लगी वो अलग बात है कि पुलिस सफाई देती है कि विधायक ने मारा और विधायक कहते है कि पुलिस ने मारा । भदोही में ज्ञानपुर के विधायक विजय मिश्रा का नाम लिये बगैर उन्होने कहा कि राज्यसभा में वोट लेने के लिए जो विधायक सरकार के प्रिय थे लेकिन अब वही एमएलए प्रिय से बुरे बन गए है। आज एमएलए लगातार चिल्ला रहे है उनकी हत्या पुलिस कर सकती है लेकिन इसको अनसुनी की जा रही है ।

कृषि से संबन्धित समाचारों के लिए लागइन करें–http://ratnashikhatimes.com/